Saturday, October 1, 2022

एसीबी के सामने फूट फूटकर रोने लगा बायोफ्यूल अथॉरिटी सीईओ सुरेंद्र सिंह राठौड़

जयपुर। जब सरकार का डंडा चलता है तो अच्छे अच्छे के पसीने छूट जाते हैं। जेल के नाम से दम घुटने लगता है। ऐसा ही वाकया बायोफ्यूल अथॉरिटी के सीईओ सुरेंद्र सिंह राठौड़ के साथ भी हुआ। एसीबी ने जब पूछताछ शुरू की तो राठौड़ फूट फूटकर रोने लगे। एसीबी ने उनसे करीब ढाई घंटे तक कड़ाई से पूछताछ की तो पैसों का सारा गुमान आसमान से धरती पर आ गया। एक हजार करोड़ की संपत्ति की बात कहकर एसीबी के सामने रोब झाड़ने वाला राठौड़ थोड़ी सी पूछताछ में ही टूटकर बिखर गया। वह एसीबी के अधिकारियों के सामने जेल नहीं भेजने के लिए मिन्नते मांगता रहा। जोर जोर से रोते हुए अधिकारियों से एक ही गुहार लगाता रहा कि मुझे जेल मत भेजो।

एक ओर मामला दर्ज होगा

सुरेंद्र सिंह राठौड़ से एसीबी ने कई दौर की पूछताछ की। जिसमें कई लोगों के नाम ओर सामने आए हैं। बयानों के आधार पर एसीबी एक और मुकदर्मा दर्ज करने की तैयारी में है। उसने एसीबी को जो जानकारी दी है। उसकी एसीबी को बिल्कुल भी जानकारी नहीं थी। अभी राठौड़ जेल में है। राठौड़ ने 2009 से 2022 तक करीब 1 हजार करोड़ रूपए की कमाई की है। जिसी की बदौलत वह उसने ब्यूरोक्रेसी में मजबूत पकड़ बना ली थी।

आईएएस के लिए भी भेजा नाम

सुरेंद्र राठौड़ की दोनों ही सरकारों में पैठ इतनी मजबूत थी कि राज्य सरकार ने अन्य सेवा से आईएएस के लिए तीन बार उनका नाम भेजा। उन्होंने बताया कि आईएएस बनने की फाइल बार बार यूपीएससी से रिजेक्ट हो जाती थी। फाइल रिजेक्ट हुई तो क्या हुआ, फिर भी 13 साल से काम आईएएस की सीट पर करता रहा। सीनियर आरएएस भी राठौड़ के नीचे काम करते थे। सुरेंद्र सिंह के कुछ आईएएस और नेताओं से संबंधों की जानकारी मिली है।

आपकी राय

क्या मायावती का यूपी चुनावों में हार के लिए मुस्लिम वोटों को जिम्मेदार ठहराना सही है?

View Results

Loading ... Loading ...

Get in Touch

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Related Articles

Latest Posts