No menu items!
No menu items!
Monday, September 26, 2022
No menu items!
No menu items!

Bharatpur News : कैबिनेट मंत्री विश्वेन्द्र सिंह पहुंचे भरतपुर , करौली में हुई हिंसा पर भाजपा नेता तेजस्वी सूर्या को लिया निशाने पर

सन्देश वातक डेस्क । कैबिनेट मंत्री विश्वेंद्र सिंह आज भरतपुर पहुंचे। इस दौरान उन्होंने बीजेपी नेता तेजस्वी सूर्या पर निशाना साधा . तेजस्वी सूर्य व अन्य भाजपा नेता कल करौली ( karauli violence ) के दौरे पर थे. लेकिन बिच रस्ते में पुलिस ने उन्हें लौटा दिया था । इसके बाद तेजस्वी भरतपुर छोड़कर दिल्ली के लिए रवाना हो गए थे। आज भरतपुर पहुंचे विश्वेंद्र सिंह ने आरोप लगाया कि भाजपा नेताओं ने दोपहर तीन बजे तक होटल में पार्टी की. ये लोग मरहम लगाने आए थे या पार्टी करने आए थे।

विश्वेंद्र सिंह ने तीखे शब्दों में कहा कि किसी को भी धारा 144 के तहत अनुमति नहीं दी जाएगी. चाहे वह किसी भी जाति धर्म का नेता हो. विश्वेंद्र ने कहा कि करौली की घटना से पूरी सरकार दुखी है. तेजस्वी सूर्या का नाम लिए बिना उन्होंने कहा कि कल भाजपा नेता करौली पहुंचे थे, धारा 144 लागू होने के बावजूद भाजपा नेताओं को 3 वाहन करौली ले जाने की अनुमति दी गई थी. वहां इन लोगों की पुलिस से झड़प हो गई।

विश्वेंद्र ने कहा कि भाजपा नेताओं ने अनुमति लेने के लिए बहुत मीठी बातें कीं। बाद में उनकी पुलिस से नोकझोंक भी हुई। करौली हिंसा में 80 दुकानें जला दी गईं, जिनमें से 73 दुकानें अल्पसंख्यक समुदाय की थीं. 7 दुकानें बहुसंख्यको की हैं। नुकसान सभी को हुआ है। 100 से ज्यादा गिरफ्तारियां हो चुकी हैं। 27 मामले दर्ज हैं। मंत्री विश्वेंद्र सिंह ने व्यंग्यात्मक लहजे में कहा कि भाजपा नेता गरीबों को देखने जा रहे थे, लेकिन वे भरतपुर आए और एक फाइव स्टार होटल में रुके. जहां दोपहर 3 बजे तक पार्टी चलती रही। बड़े शर्म की बात है। इससे भाजपा का मुखौटा सबके सामने आ गया है।

विश्वेंद्र ने तंज कसते हुए कहा कि अगर बीजेपी नेताओं को आना होता तो वे प्रधानमंत्री से पीएम राहत कोष से कुछ मदद लाते. प्रभावितों को मुआवजा दिया जाएगा। तब उनका आना सार्थक होता। भाजपा नेता यहां राजनीतिक रोटी बनाने आए हैं। वे सांप्रदायिकता फैलाने आए हैं, उन्हें शर्म आनी चाहिए। मंत्री विश्वेंद्र सिंह ने साफ किया कि धारा 144 का उल्लंघन किसी भी कीमत पर नहीं होने दिया जाएगा, अगर बीजेपी ने दंगा फैलाने की कोशिश की तो उन्हें भी गिरफ्तार किया जाएगा।

बता दें कि कल करौली से लौटते समय तेजस्वी सूर्या भरतपुर पहुंचे थे. वह सर्किट हाउस के बाद एक निजी होटल में रुके थे। सुबह तेजस्वी सूर्या सेवर के भीम राव अंबेडकर पार्क में बाबा साहब की प्रतिमा पर माल्यार्पण कर दिल्ली के लिए रवाना हुए।

आपकी राय

क्या मायावती का यूपी चुनावों में हार के लिए मुस्लिम वोटों को जिम्मेदार ठहराना सही है?

View Results

Loading ... Loading ...

Get in Touch

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Related Articles

Latest Posts