Saturday, October 1, 2022

हेल्थ सिस्टम पर सवाल! धौलपुर अस्पताल में हुई मौत वाहन नहीं मिला तो पिता कंधे पर ले गया मासूम का शव

पूरी दुनिया आज मजदूर दिवस मना रहा है, क्योंकि इस दिन काम के घंटे तय करने के लिए अमेरिका में हड़ताल शुरू की थी। लेकिन वास्तव में उन्हें उनके हक अभी तक नहीं मिले हैं। धौलपुर जिले में शनिवार को इंसानियत को शर्मसार करने वाला मामला सामने आय़ा है। उल्टी-दस्त और पेट दर्द की शिकायत पर एक मजदूर पिता 3 बच्चों को लेकर जिला अस्पताल आया। इनमें एक बच्चे की इलाज के दौरान मौत हो गई। प्रत्यक्षदर्शियों का कहना है कि उसे ना तो अस्पताल में आते वक्त और ना ही जाते वक्त स्ट्रैचर मिला। इसलिए कंधे पर ही बेटे की लाश लेकर टेंपो तलाशने सड़क तक आना पड़ा। हालांकि दो अन्य बच्चे अस्पताल में भर्ती हैं।

दरअसल, सैपऊ के कुम्हेरी में ईंट-भट्टे पर काम करने वाले श्रमिक छत्तीसगढ़ निवासी श्यामलाल के 3 बच्चे शनिवार सुबह अचानक बीमार हो गए। इनमें समीर (10), संगीता (9) और बबलू (7) हैं। इन्हें पहले तसीमों में प्राइवेट क्लिनिक पर दिखाया। लेकिन, फायदा नहीं होने पर वह पत्नी के साथ उनको जिला अस्पताल धौलपुर ले गया।

इमरजेंसी से एमसीएच में भेजा, वहीं हुई समीर की मौत
यहां जैसे तैसे एक बच्चे को पत्नी के कंधे पर और एक को खुद के कंधे पर लेकर इमरजेंसी में पहुंचा। यहां से इन्हें अस्पताल की दूसरी बिल्डिंग मातृ एवं शिशु संस्थान भेज दिया गया। लेकिन, यहां समीर को मृत घोषित कर दिया गया। लेकिन यहां से उसे स्ट्रैचर तक उपलब्ध नहीं हुआ। इसलिए श्यामलाल बेटे की लाश को कंधे पर लेकर सड़क पर टेंपो तक पहुंचा। उसके साथ पत्नी भी पैदल ही आ गई। दोनों भीषण गर्मी में ऑटो के लिए सड़क पर भटकते रहे। इस नजारे ने सभी को झकझोर दिया। इधर अस्पताल प्रबंधन का कहना है कि भौगोलिक रूप से यह कई हिस्सों में बंटा हुआ हैं। स्टाफ की काफी कमी है। लेकिन, कई बार रोगियों को जल्दबाजी में उनके परिजन स्ट्रैचर तलाशने के बजाय कंधे पर ही ले आते हैं।

यह भी पढ़े

बीच मीटिंग से चिकित्सा मंत्री परसादी लाल मीणा ने CMHO को निकाला बाहर, जानिए क्या है वजह

आपकी राय

क्या मायावती का यूपी चुनावों में हार के लिए मुस्लिम वोटों को जिम्मेदार ठहराना सही है?

View Results

Loading ... Loading ...

Get in Touch

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Related Articles

Latest Posts