Sunday, September 25, 2022

चूरू में 6 साल की बालिका से हैवानियत ,पॉक्सो कोर्ट ने दी आजीवन कारावास की सजा

जिले के राजगढ़ थाने में साल 2019 में दर्ज 6 साल की बालिका को अगवा कर दुष्कर्म मामले में पॉक्सो कोर्ट ने बुधवार को अपना फैसला सुना दिया है. पॉक्सो कोर्ट ने हनुमानगढ़ के गांव झीलोदा निवासी आरोपी नरेश धाणक को दोषी मानते हुए आजीवन कारावास (Minor girl rape convict sentenced to life imprisonment) और 50,000 रुपए अर्थदंड की सजा सुनाई है.

आरोपी को मिली आजीवन कारावास की सजा
6 साल की बच्ची के पिता ईट भट्टे पर आरोपी के साथ काम करते थे इसलिए दोनों में परिचय था. 23 अगस्त 2019 को आरोपी नरेश अपने साथी सतपाल के साथ बाइक पर पीड़िता के घर आया जहां उसने पीड़िता के पिता के साथ चाय पी. नरेश अपने साथी सतपाल के साथ वहां से चला गया. इसके बाद आरोपी नरेश ने शराब पी और दोबारा शराब के नशे में अकेले ही पीड़िता के घर आया. जहां घर के आगे 6 साल की बालिका और 8 वर्षीय भाई खेल रहे थे. आरोपी ने दोनों को बहला-फुसलाकर अपनी बाइक पर बिठा लिया और उन्हें राजगढ़ में एनएच 52 के पास स्थित चौधरी कॉलेज के आगे पिंजरापोल गौशाला के बीहड़ में ले गया. यहां आरोपी ने 8 साल के बालक को पानी लाने के लिए भेज दिया और पीछे से 6 साल की बालिका के साथ रेप की वारदात को अंजाम दिया.

यह था पूरा मामला
घटना के अनुसार नरेश धाणक निवासी झिलोदा जिला हनुमानगढ़ 2 अगस्त 2019 को गांव में ही सतपाल के साथ ददरेवा मेले में गोगा जी के धोक लगाने आया थ. पहले ईंट भट्टे पर साथ काम करने वाला एक दोस्त अपने परिवार सहित ददरेवा में ही रहता था. दोनों मेला देखने के बाद 23 अगस्त की सुबह दोस्त के घर चले गए और वहां पर चाय नास्ता किया. इसके बाद दोनों बाइक पर ददरेवा बस स्टैंड की तरफ चले गए और वहां पर शराब पी इसके बाद आरोपी नरेश धाणक अपने साथी सतपाल की बाइक लेकर उसके दोस्त के घर के आगे पहुंचा. वहां पर घर के बाहर खेल रही छह साल की मासूम व 8 साल के बच्चे को बाइक पर बैठाकर राजगढ़ की तरफ ले गया. आरोपी दोनों को हाइवे स्थित है पिंजरापोल की रोही में ले गया वहां 9 साल के बच्चे को कॉलेज से पानी लाने भेज दिया पीछे से आरोपी ने 6 साल की मासूम से रेप किया और उसे वहीं छोड़कर भाग गया. घटना को लेकर 23 अगस्त 2019 को बच्ची के पिता की रिपोर्ट पर राजगढ़

बच्चों के साथ बढ़ रहे हैं गंभीर अपराध
एसपीपी वरूण सैनी ने बताया कि पोक्सो कोर्ट के विशिष्ट न्यायाधीश ने फैसले में लिखा कि वर्तमान में बच्चों के साथ गंभीर अपराध हो रहे हैं ऐसे अपराधियों की अपराधों की रोकथाम के लिए आरिफ आरोपी को कड़ी सजा देनी जरूरी है ताकि बच्चों के मन में सुरक्षा की भावना बढे.

 

आपकी राय

क्या मायावती का यूपी चुनावों में हार के लिए मुस्लिम वोटों को जिम्मेदार ठहराना सही है?

View Results

Loading ... Loading ...

Get in Touch

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Related Articles

Latest Posts