Saturday, October 1, 2022

दिनेश कार्तिक को पहली बीवी से मिला था धोखा,दूसरी ने संवार दी जिंदगी , ऐसी रही है इनकी पर्सनल लाइफ

समय सबका आता है। बस संयम की ज़रूरत होती है।साल 2004, दिनेश कार्तिक नामक युवा विकेटकीपर ने भारतीय क्रिकेट टीम ने अपना डेब्यू किया। उनका क्रिकेट जीवन परवान चढ़ रहा था और सन 2007 में अपनी बचपन की दोस्त निकिता वंजारा से शादी कर ली। दिनेश और निकिता अपनी शादीशुदा जिंदगी में बड़े खुश थे। दिनेश रणजी ट्रॉफी में तमिलनाडु टीम की कप्तानी भी कर रहे थे। उनके खास दोस्त थे तमिलनाडु की टीम के ओपनर, जो बाद में भारतीय टीम का हिस्सा भी बने, मुरली विजय।

तो एक दिन निकिता की मुलाकात मुरली विजय से हुई। मुरली विजय को निकिता भा गयी। भोले भाले दिनेश कार्तिक इस बात को महसूस नहीं कर पाये। निकिता और मुरली के बीच नज़दीकियां बढ़ने लगीं और कुछ ही समय में दोनों का अफेयर शुरू हो गया। दोनों खुलकर मिलने लगे। दिनेश कार्तिक के अलावा पूरी टीम जानती थी कि मुरली विजय अपने कप्तान की पत्नी निकिता के साथ इश्क लड़ा रहे हैं। फिर आया 2012, निकिता प्रेगनेंट हो गयी। लेकिन तभी उसने धमाका करते हुए कहा यह बच्चा मुरली विजय का है। दिनेश कार्तिक टूट गये। उन्होंने निकिता से तलाक ले लिया।

तलाक के अगले ही दिन निकिता ने मुरली विजय से शादी कर ली। तीन महीने बाद उन्हें बच्चा हो गया। दिनेश कार्तिक डिप्रेशन में चले गये। मानसिक तौर पर बीमार रहने लगे। अपनी पत्नी और दोस्त के धोखे को असानी से भुला नहीं पा रहे थे। वे शराबी हो गये। सुबह से लेकर शाम तक शराब पीने लगे। वे देवदास बन गये। उन्हें भारतीय टीम से बाहर कर दिया गया। रणजी ट्रॉफी में भी वे असफल हो रहे थे। तमिलनाडु की टीम की कप्तानी उनसे छीन ली गयी और मुरली विजय को नया कप्तान बना दिया गया। असफलता का दौर यहीं नहीं थमा। उन्हें आईपीएल से भी बाहर कर दिया गया। उन्होंने जिम जाना भी छोड़ दिया। दिनेश इतना हताश हो गये कि आत्महत्या की बात करने लगे। तभी एक दिन उनके जिम ट्रेनर उनके घर पहुंचे। उन्होंने दिनेश को बुरे हाल में पाया। उन्होंने कार्तिक को पकड़ा और सीधा जिम लेकर आ गये। कार्तिक ने मना किया लेकिन ट्रेनर ने उनकी एक न सुनी।

उसी जिम में भारतीय स्क्वैश की महिला चैंपियन दीपिका पल्लीकल भी आती थी।दिनेश कार्तिक साल 2013 में भारत की स्क्वैश खिलाड़ी दीपिका पल्लीकल से मिले जब उन्होंने दिनेश कार्तिक की स्थिति देखी तो ट्रेनर के साथ उन्होंने भी दिनेश कार्तिक की काउंसलिंग शुरू कर दी। ट्रेनर और दीपिका की मेहनत रंग लाने लगी। अब दिनेश कार्तिक सुधार की राह पर थे. दोनों के बीच नजदीकियां बढ़ीं और साल 2015 में इन्होंने शादी कर ली. पिछले साल ही इस कपल के यहां जुड़वा बच्चे हुए हैं.निकिता से अलग होने और दीपिका से जुड़ने के बाद दिनेश कार्तिक की जिंदगी भी संवर गई. वह अपने पारिवारिक जीवन में तो खुश रहते ही हैं, क्रिकेट में भी वह नए मुकाम हासिल करते गए. दीपिका से शादी के बाद वह केकेआर के कप्तान बने. इस IPL सीजन में भी वह धमाकेदार अंदाज में अपनी IPL टीम के लिए खूब रन बटोर रहे हैं.दूसरी ओर मुरली विजय का खेल डाउन लगातार डाउन जा रहा था। उन्हें भारतीय टीम से बाहर कर दिया गया।

आपकी राय

क्या मायावती का यूपी चुनावों में हार के लिए मुस्लिम वोटों को जिम्मेदार ठहराना सही है?

View Results

Loading ... Loading ...

Get in Touch

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Related Articles

Latest Posts