Saturday, October 1, 2022

दीया कुमारी : मामूली वर्कर से लव मैरिज, भगवान राम का वंशज होने का दावा; विवादों से भरी इस राजकुमारी की कहानी

जयपुर की राजकुमारी दीया कुमारी की पर्सनल लाइफ ही नहीं प्रोफेशनल लाइफ भी विवादों से भरी हुई है। चलिए जानते हैं उनसे जुड़े विवादों के बारे में।


प्यार की निशानी कहे जाने वाला ताजमहल हमेशा विवादों से घिरा रहता है। कोई न कोई इस पर अपना दावा करता रहता है। अभी हाल ही में जयपुर घराने की राजकुमारी और सांसद दीया कुमारी ने ताजमहल को मुगलों की नहीं बल्कि उनके पुरखों की विरासत कहा है। इसके आगे उन्होनें कहा कि क्योंकि उस समय भारत में मुगलों का शासन था, इसलिए उनका परिवार विरोध करने में नाकामयाब रहा।ऐसा कहा जा सकता है कि दीया कुमारी यानी विवाद। क्योंकि उनकी जिंदगी विवादों से ही घिरी हुई है। यह पहली बार नहीं हुआ, जब उनके बयानों ने मीडिया में तहलका मचा दिया हो। इससे पहले भी वह कई बार ऐसे बयान दे चुकी हैं, जिनके कारण उन्हें कॉन्ट्रोवर्सी क्वीन कहा जाने लगा है। आज इस आर्टिकल में हम आपको दीया कुमारी से जुड़े सभी विवादों के बारे में बताएंगे। चलिए जानते हैं उनकी उथल-पुथल जिंदगी के बारे में।

कौन हैं राजकुमारी दीया कुमारी?
दीया कुमारी का जन्म साल 1971 में भारतीय सेना अधिकारी और होटल व्यवसायी भवानी सिंह और पद्मिनी देवी के घर हुआ था। दीया कुमारी जयपुर के राजपरिवार की सदस्य हैं। वह महाराजा भवानी सिंह की इकलौती बेटी हैं। कुमारी ने मॉडर्न स्कूल (नई दिल्ली), जी.डी. सोमानी मेमोरियल स्कूल, मुंबई और महारानी गायत्री देवी गर्ल्स पब्लिक स्कूल, जयपुर में पढ़ाई की। इसके बाद उन्होंने लंदन में डेकोरेटिव आर्ट्स का कोर्स किया। वह अपनी सुंदरता और सूझ-बूझ के लिएभी जानी जाती हैं। वह राजनीति में सक्रिय हैं।
राजनीतिक सफरदीया कुमारी का राजनीतिक सफर बेहद ही शानदार रहा है। साल 2013 में वह भाजपा पार्टी में शामिल हुई थीं। उन्होंने 2013 के राजस्थान विधानसभा चुनाव में सवाई माधोपुर से भाजपा उम्मीदवार के रूप में चुनाव लड़ा और विधायक बनीं। इसके बाद वह 2019 में राजसमंद से लोकसभा के लिए संसद सदस्य के रूप में चुनी गईं। सांसद के अलावा वह अपना खुद का फाउंडेशन भी चलाती हैं। इसके साथ ही वह दो स्कूल और 3 होटल भी चलाती हैं।

मामूली वर्कर से की शादी

मामूली वर्कर से लव मैरिज, भगवान राम का वंशज होने का दावा; विवादों से भरी इस राजकुमारी की कहानी
जयपुर की राजकुमारी दीया कुमारी की पर्सनल लाइफ ही नहीं प्रोफेशनल लाइफ भी विवादों से भरी हुई है। चलिए जानते हैं उनसे जुड़े विवादों के बारे में।

प्यार की निशानी कहे जाने वाला ताजमहल हमेशा विवादों से घिरा रहता है। कोई न कोई इस पर अपना दावा करता रहता है। अभी हाल ही में जयपुर घराने की राजकुमारी और सांसद दीया कुमारी ने ताजमहल को मुगलों की नहीं बल्कि उनके पुरखों की विरासत कहा है। इसके आगे उन्होनें कहा कि क्योंकि उस समय भारत में मुगलों का शासन था, इसलिए उनका परिवार विरोध करने में नाकामयाब रहा।

ऐसा कहा जा सकता है कि दीया कुमारी यानी विवाद। क्योंकि उनकी जिंदगी विवादों से ही घिरी हुई है। यह पहली बार नहीं हुआ, जब उनके बयानों ने मीडिया में तहलका मचा दिया हो। इससे पहले भी वह कई बार ऐसे बयान दे चुकी हैं, जिनके कारण उन्हें कॉन्ट्रोवर्सी क्वीन कहा जाने लगा है। आज इस आर्टिकल में हम आपको दीया कुमारी से जुड़े सभी विवादों के बारे में बताएंगे। चलिए जानते हैं उनकी उथल-पुथल जिंदगी के बारे में।

खुद को बताया भगवान राम का वंशज

ऐसे ही दीया कुमारी को कॉन्ट्रोवर्सी क्वीन नहीं कहा जाता है। यह करीब 2-3 साल पुरानी बात है। दीया कुमारी ने दावा किया था कि उनका परिवार भगवान राम का वंशज है। उन्होनें कहा कि उनके पिता कुश के 309वें वंशज थे। यही नहीं वह सुप्रीम कोर्ट में अपने परिवार के वंश का सबूत देने को भी तैयार थीं।
फोर्ब्स, विकिपीडिया और कई अन्य ऑनलाइन स्रोतों के अनुसार दीया कुमारी की नेट वर्थ 92 मिलियन डॉलर है। कहा जाता है कि उनकी इनकम का सोर्स उनकी प्रॉपर्टी और एक राजनेता के रूप में उनका करियर है। यूं ही नहीं उन्हें राजकुमारी कहा जाता है।

आपकी राय

क्या मायावती का यूपी चुनावों में हार के लिए मुस्लिम वोटों को जिम्मेदार ठहराना सही है?

View Results

Loading ... Loading ...

Get in Touch

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Related Articles

Latest Posts