Sunday, September 25, 2022

बीकानेर के पूर्व मंत्री बोले- भाजपा विपक्ष की भूमिका निभाने में विफल, भाजपा ने जारी ज्ञापन पर नाराजगी जताते हुए कहा कि इतने दिन मर गए थे क्या ?

पूर्व मंत्री देवीसिंह भाटी ने भारतीय जनता पार्टी पर निशाना साधा है। उन्होंने कहा- विपक्ष की भूमिका निभाने में नाकाम रहे। भाटी ने हल्ला बॉल कार्यक्रम के तहत अपने आंदोलन की शुरुआत में भाजपा द्वारा जारी ज्ञापन पर नाराजगी जताते हुए कहा कि इतने दिन मर गए थे क्या ? भाटी भी मंगलवार को दूसरे दिन भी कलेक्टर कार्यालय के सामने आमरण अनशन पर थे।

भाजपा द्वारा विरोध के रूप में आंदोलन के सवाल पर भाटी ने कहा कि बैठक में भाजपा आई है। आप अभी क्यों सक्रिय हो रहे हैं? क्या वह इतने लंबे समय से मरा हुआ था? क्या यह उनका कर्तव्य नहीं था? जबकि ग्रामीण और नगरवासी पानी, बिजली और चारे के लिए संघर्ष कर रहे थे। फिर बीजेपी के नेता सामने क्यों नहीं आए? भाजपा नेताओं को अपने पद छोड़ देना चाहिए, अपना धंधा चलाना चाहिए। भाजपा कहती है कि हम जनसेवा करते हैं, लेकिन उनकी जनसेवा कहां है।

सरकारों पर व्यंग्य

भाटी ने कहा कि सरकार जयपुर में बैठी है, यहां नहीं आ रही है। दिल्ली वाले यहां नहीं आते। भाटी ने केंद्र और राज्य सरकारों पर लोगों के प्रति असंवेदनशील होने का आरोप लगाया। प्रशासन भी सरकारों से नहीं डरता। प्रशासन लोगों तक पहुंचने और उनकी समस्याओं को सुनने को तैयार नहीं है। इसलिए हमें चिल्लाना पड़ता है।

भाटी ने आरोप लगाया कि उन्होंने 15 दिन पहले एक आवेदन दायर किया था और व्यवस्था में सुधार नहीं होने पर उग्र आंदोलन करने की धमकी दी थी। इन पखवाड़ों में कोई प्रयास नहीं हुआ। अब मजबूरी में उन्हें आमरण अनशन करना पड़ रहा है।

भाजपा के वरिष्ठ नेता और पूर्व मंत्री देवी सिंह भाटी लगातार सात बार विधायक रहे हैं। वहीं 2013 के चुनाव में बार में गए थे। उन्होंने राज्य सरकार में कई महत्वपूर्ण पदों पर भी कार्य किया है। उनके बेटे महेंद्र भी 1996 से बीकानेर निर्वाचन क्षेत्र से सांसद हैं।

आपकी राय

क्या मायावती का यूपी चुनावों में हार के लिए मुस्लिम वोटों को जिम्मेदार ठहराना सही है?

View Results

Loading ... Loading ...

Get in Touch

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Related Articles

Latest Posts