Sunday, September 25, 2022

आ गई LIC IPO को लेकर पूरी जानकारी , 4 मई को लॉन्च होगा. इसके लिए प्राइस बैंड तय हो चुका है. आपको कितने रुपये में मिलेगा एक शेयर और कब कर सकेंगे आवेदन. जानिए सबकुछ…

LIC IPO Details: एलआईसी आईपीओ सरकार के विनिवेश लक्ष्य का हिस्सा है. पहले ये आईपीओ 31 मार्च 2022 तक आना था. लेकिन रूस-यूक्रेन युद्ध के चलते बदले वैश्विक हालातों के बीच इसकी डेट आगे खिसका दी गई.एलआईसी के आईपीओ का निवेशकों को लंबे समय से इंतजार है और अब निवेशकों का यह इंतजार खत्म होने वाला है। एलआईसी अपने पॉलिसीधारकों (LIC Policyholder) को 60 रुपये की छूट देगी। वहीं खुदरा निवेशकों और कर्मचारियों को इस आईपीओ में 40 रुपये की छूट दी जाएगी ! सार्वजनिक क्षेत्र की बीमा कंपनी भारतीय जीवन बीमा निगम (LIC) ने अपने आरंभिक सार्वजनिक निर्गम (IPO) के लिए मूल्य दायरा (LIC IPO Price Band) तय कर दिया है। एलआईसी के आईपीओ के लिए प्राइस बैंड 902 से 949 रुपये प्रति शेयर तय किया है। सूत्रों ने मंगलवार को यह जानकारी दी। सूत्रों ने बताया कि एलआईसी अपने पॉलिसीधारकों (LIC Policyholder) को 60 रुपये की छूट देगी। वहीं खुदरा निवेशकों और कर्मचारियों को 40 रुपये की छूट दी जाएगी। कंपनी का आईपीओ (LIC IPO) चार मई को खुलने की उम्मीद है। वहीं इस आईपीओ के नौ मई को बंद होने का अनुमान जताया जा रहा है। एंकर निवेशकों के लिए आईपीओ 2 मई को खुलेगा।

HIGHLIGHTS

एलआईसी ने आईपीओ के लिए प्राइस बैंड 902 से 949 रुपये के बीच हो सकता है
एलआईसी के पॉलिसी धारकों को प्रति शेयर 60 रुपये का डिस्काउंट मिल सकता है
एलआईसी का आईपीओ 4 मई को खुल सकता है। वहीं आईपीओ 9 मई को बंद होगा

जानिए किन्हें मिलेगा इश्यू प्राइस पर डिस्काउंट

लेकिन इसकी शर्त है कि पॉलिसीहोल्डर्स NRI नहीं होना चाहिए। अगर कोई पॉलिसीहोल्डर्स देश से बाहर रहता है तो उसे यह छूट नहीं मिलेगी।

इसके साथ ही रिटेल इनवेस्टर्स और LIC के कर्मचारियों को इश्यू प्राइस पर 45 रुपए की छूट दी गई है। यानी उन्हें अपर प्राइस बैंड पर भी शेयर अलॉट होता है तो वह 904 रुपए पर मिलेगा।

छूट लेने के लिए आपको क्या करना होगा?

सबसे पहली बात आपके पास डिमैट अकाउंट होना जरूरी है। डिमैट अकाउंट एक तरह खाता होता है जिसमें शेयर रखे जाते हैं। इसके साथ ही अगर आप पॉलिसीहोल्डर्स हैं तो आपकी पॉलिसी में PAN अपडेट होना अनिवार्य है।

अगर आपने अभी तक पॉलिसी में PAN अपडेट नहीं करवाया है तो आप इस इश्यू के लिए आवेदन नहीं कर सकते हैं। इसके लिए जरूरी था कि 28 फरवरी से पहले आप पॉलिसी में PAN अपडेट करा लेते।

क्या लैप्स पॉलिसी पर मिलेगी छूट

अगर आप ये सोच रहे हैं कि आपकी पॉलिसी लैप्स कर चुकी है तो आपक इश्यू प्राइस पर डिस्काउंट मिलेगा या नहीं? तो जान लीजिए कि लैप्स पॉलिसी पर भी डिस्काउंट मिलेगा। इसके अलावा जिनके नाम भी LIC के रिकॉर्ड में दर्ज हैं उन्हें यह छूट मिलेगी। अगर ज्वाइंट पॉलिसी है तो फ़र्स्ट अकाउंट होल्डर को इसका फायदा मिलेगा।

पारिवारिक बचत की सबसे बड़ी कंपनी

एलआईसी न सिर्फ सरकारी प्रतिभूतियों की सबसे बड़ी धारक है बल्कि वह इक्विटी की सबसे बड़ी इकलौती मालिक और सबसे बड़ी फंड प्रबंधक होने के साथ पारिवारिक बचत की कंपनी भी है। स्विस ब्रोकरेज फर्म यूबीएस सिक्योरिटीज की एक रिपोर्ट के मुताबिक, एलआईसी के पास कुल 80.7 लाख करोड़ रुपये की सरकारी प्रतिभूतियों का करीब 17 प्रतिशत है। इक्विटी बाजार में भी एलआईसी की हिस्सेदारी करीब चार फीसदी है। एलआईसी के पास दिसंबर 2021 में आरआईएल में 10 प्रतिशत, टीसीएस, इंफोसिस एवं आईटीसी में पांच-पांच प्रतिशत और आईसीआईसीआई बैंक, एलएंडटी और एसबीआई में चार-चार प्रतिशत हिस्सेदारी थी।

आपकी राय

क्या मायावती का यूपी चुनावों में हार के लिए मुस्लिम वोटों को जिम्मेदार ठहराना सही है?

View Results

Loading ... Loading ...

Get in Touch

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Related Articles

Latest Posts