Wednesday, September 28, 2022

हिंदू रीति रिवाज से निकली बंदर की शव यात्रा, बैंड बाजे के साथ हुआ बंदर का अंतिम संस्कार

जोधपुर जिले में बंदर की शव यात्रा सोशल मीडिया पर चर्चा का विषय बन गई है. बैंड, बाजा, ढोल, थाली बजाते हुए क्षेत्रवासियों ने शव यात्रा को निकाला. अंतिम यात्रा में सैकड़ों लोग शामिल हुए. लोगों ने कंधे पर बैकुंठी को उठाकर नम आंखों से अंतिम विदाई दी. मोक्ष धाम में बंदर का हिंदू रीति रिवाज से अंतिम संस्कार किया गया. शोभावतों की ढाणी वार्ड नंबर 36 के पार्क में बंदरों का जोड़ा रहता था. एक बंदर की अचानक तबीयत खराब हो गई और उसकी मौत हो गई.

धूमधाम से निकाली बंदर की अंतिम शव यात्रा

सूचना मिलते ही क्षेत्रवासी इकट्ठा होने लगे. सभी ने मिलकर हिंदू रीति रिवाज से बंदर के अंतिम संस्कार की तैयारियां शुरू कर दी. बंदर को स्नान कराकर भगवा कपड़ा डाला गया. लोगों ने गुलाब का फूल माला पहनाकर धूमधाम से शव यात्रा निकाली. बैंड, बाजा और ढोल के साथ निकली शव यात्रा को देखने लोग जगह जगह खड़े हो गए. शव यात्रा में सैकड़ों लोगों के साथ पार्षद दीपक माथुर भी शामिल हुए.

हिंदू रीति रिवाज के अनुसार लोगों ने कंधे पर बंदर की बैकुंठी को उठाए रखा. मोक्ष धाम पहुंचने पर हनुमान चालीसा का पाठ भी किया गया. मौजूद लोगों ने बंदर की आत्मा की शांति के लिए प्रार्थना की. अंत में हिंदू रीति रिवाज से बंदर को समाधि दे दी गई. बंदर की शव यात्रा का वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है. वीडियो को देखकर कई लोग सहानुभूति भी पेश कर रहे हैं. हिंदू नव वर्ष के दिन निकाली गई बंदर की शव यात्रा चर्चा का विषय बनी हुई है. 

यह भी पढ़े

चीन से जुड़े ठग और एक्सटॉर्शन गैंग के 8 लोग गिरफ्तार, ऐसे बनाते थे शिकार

आपकी राय

क्या मायावती का यूपी चुनावों में हार के लिए मुस्लिम वोटों को जिम्मेदार ठहराना सही है?

View Results

Loading ... Loading ...

Get in Touch

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Related Articles

Latest Posts