Saturday, October 1, 2022

आजकल बुलडोजर की काफी चर्चा है . आइये जानते है , किसने और क्यों किया था Bulldozer का आविष्कार

हमारे देश में आजकल बुलडोजर ( Bulldozer ) की काफी चर्चा है. मौजूदा सरकार में बुलडोजर कानून की ताकत के प्रतीक के तौर पर उभरा है. उत्तर प्रदेश में जब विधानसभा चुनाव हुए तो मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ को ही लोग चुनावी सभाओं में बुलडोजर बाबा के नाम से पुकारने लगे थे . इसके बाद मध्य प्रदेश में बुलडोजर से खरगौन में प्रशासन द्वारा मकान गिराने की खबरें आईं. दिल्ली में जहांगीरपुर हिंसा के बाद बुलडोजर के कहर से बचने के लिए पीड़ित लोग सुप्रीमकोर्ट तक जा पहुंचे. वैसे इमर्जेंसी में भी बुलडोजर की महिमा किसी से छिपी नहीं है.

संयोग की बात है कि दुनिया के किसी देश में अगर इस समय बुलडोजर सबसे ज्यादा चर्चा में है तो वो अपना ही देश है. सुप्रीम कोर्ट में एक जज ने टिप्पणी की कि बुलडोजर तो तोड़फोड़ के लिए ही होते हैं. लेकिन 99 साल पहले जिसने बुलडोजर का आविष्कार किया था, उसके दिमाग में इसके जरिए खेती-किसानी को समृद्ध करने की योजना थी.

बुलडोजिंग का अर्थ होता है जबरदस्ती करना। शुरुआत में बुलडोजिंग का अर्थ होता था, किसी बाधा को ताकत के साथ पार करना। मशीन के मामले में बुलडोजर ( Bulldozer ) , एक ऐसी मशीन का नाम है जो निर्माण के रास्ते में आने वाली बाधाओं को जबरदस्त ताकत के साथ खत्म कर देती है। आइए आज बुलडोजर के इतिहास और रोमांचक कहानी के बारे में पढ़ते हैं.

who invented bulldozer

यह 18वीं सदी की बात है। कुछ किसान अपनी खेती में आने वाली बाधाओं को दूर करने के लिए लकड़ी की एक खास किस्म की मशीन का उपयोग किया करते थे। इस मशीन में आगे की तरफ एक मोटी और बहुत बड़ी ब्लेड लगी होती थी और पीछे घोड़ा गाड़ी की तरह दो बड़े पहिए लगे होते थे। कहा जाता है कि इसी मशीन से बुलडोजर बनाने का आइडिया आया। कई इतिहासकार इसी मशीन को दुनिया का पहला Bulldozer कहते हैं।

किसने किया बुलडोजर का आविष्कार ( Who invented bulldozer )

सन 1904 में अमेरिकी इन्वेंटर बेंजामिन होल्ट ने उस मशीन का आविष्कार किया जिसे बुलडोजर कहा जाता है। इसमें स्टीम इंजन लगा हुआ था और मूल रूप से यह मशीन एक क्रॉलर ट्रेड टैक्टर थी। ठीक इसी समय दुनिया के दूसरे हिस्से इंग्लैंड में हॉर्नस्बी नाम की कंपनी ने भी ऐसी ही मशीन बनाई थी। यह मशीन खेती को आसान बनाने के लिए बनाई गई थी।

क्यों हुआ Bulldozer का युद्ध में इस्तेमाल

द्वितीय विश्व युद्ध के दौरान इस मशीन का उपयोग सेना के हथियार और सामान ढोने के लिए किया गया क्योंकि बुलडोजर उबड़ खाबड़ जमीन पर आसानी से चल सकता था। सन 1916 में पहली बार ब्रिटिश सेना द्वारा बुलडोजर का युद्ध में इस्तेमाल किया गया। आज दुनिया भर में बुलडोजर का इस्तेमाल बड़े-बड़े निर्माण कार्यों के लिए किया जाता है।

मशीन का सही नाम क्या है

आपको जानकर आश्चर्य होगा कि भारत में ज्यादातर जिस मशीन को बुलडोजर कहा जाता है असल में उस मशीन का नाम बैकहो लोडर मशीन है। इस मशीन को सबसे पहले JCB कंपनी ने बनाया था। आज दुनिया भर में कई कंपनियां बुलडोजर बना रही है। हर कंपनी की टेक्नोलॉजी अलग हो सकती है लेकिन बुलडोजर की पहचान उसके आगे एक भीमकाय ब्लेड है।

आपकी राय

क्या मायावती का यूपी चुनावों में हार के लिए मुस्लिम वोटों को जिम्मेदार ठहराना सही है?

View Results

Loading ... Loading ...

Get in Touch

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Related Articles

Latest Posts