Saturday, October 1, 2022

Rajasthan News: MLA गिर्राज मलिंगा ने रिहा होने के बाद किया शक्ति प्रदर्शन, बोले- ‘अफसरों ने सीमा लांघी तो हम भी लांघेंगे’

मारपीट मामले में गुरुवार को हाईकोर्ट से जमानत मिलने के बाद विधायक गिर्राज मलिंगा ने खुली जीप पर सवार होकर शक्तिप्रदर्शन किया. उन्हें धौलपुर में एससी-एसटी कोर्ट ने एईएन मारपीट मामले में जेल भेजा था.

धौलपुर के बाडी में जेईएन मारपीट मामले में गुरुवार को हाईकोर्ट से जमानत मिलने के बाद विधायक गिर्राज मलिंगा (Giriraj Malinga) ने रोड शो के जरिये तीन घंटे तक शक्ति प्रदर्शन किया. इस दौरान मलिंगा ने फिर कहा कि, अफसरों ने सीमा लांघी तो हम भी लांघेंगे.” विधायक गिर्राज सिंह मलिंगा को एससी-एसटी कोर्ट ने मारपीट मामले में जेल भेज दिया था.

मलिंगा ने 11 मई को सीआईडी सीबी के समक्ष सरेंडर किया था. जिसके बाद सीआईडी सीबी ने 12 मई को कोर्ट में उन्हें पेश किया जहां से न्यायालय ने मलिंगा को जेल भेज दिया था. उसके बाद मलिंगा को 17 मई को हाईकोर्ट ने राहत देते हुए जमानत दे दी थी.

जेल से बाहर आते ही मलिंगा की कोरोना रिपोर्ट आई निगेटिव

जमानत मिलने के बाद विधायक मलिंगा ने रोड़ शो के मार्फ़त शक्ति प्रदर्शन किया. इस दौरान विधायक राजेन्द्र सिंह गुढ़ा, विधायक वाजिद अली मलिंगा के साथ वह खुली जीप में सवार दिखे. वहीं जेल से बाहर आते ही मलिंगा की कोरोना रिपोर्ट निगेटिव आई थी. जिसके बाद उन्होंने शक्ति प्रदर्शन किया।

ये है पूरा मामला

गौरतलब है 28 मार्च 2022 को बाड़ी उपखण्ड मुख्यालय स्थित बिजली निगम कार्यालय में एईएन हर्षाधिपति एवं जेईएन नितिन गुलाटी के साथ मारपीट की गई थी. बिजली कर्मचारियों के साथ मारपीट के आरोप बाड़ी विधानसभा क्षेत्र के कांग्रेसी विधायक • गिर्राज सिंह मलिंगा एवं उनके समर्थकों पर लगे थे. इस घटना के बाद बिजली निगम के कर्मचारियों ने विधायक गिर्राज सिंह मलिंगा की गिरफ्तारी को लेकर राज्य स्तर तक धरना प्रदर्शन भी किए थे. वहीं सीआईडी द्वारा इस प्रकरण की जांच के दौरान 11 मई 2022 को विधायक गिर्राज सिंह मलिंगा एवं विधायक राजेंद्र गुढ़ा ने मुख्यमंत्री अशोक गहलोत से सीएम हाउस पर मुलाकात की थी. मुख्यमंत्री ने विधायक गिर्राज सिंह मलिंगा को सरेंडर करने के लिए कहा था। इसके बाद में विधायक मलिंगा ने 11 मई को ही जयपुर मुख्यालय पर ही सीआईडी सीबी के समक्ष सरेंडर कर दिया था.

जेल में विधायक मलिंगा की कोरोना रिपोर्ट आई थी पॉजिटिव

सीआईडी सीबी ने 12 मई को धौलपुर एससी एसटी कोर्ट में पेश किया था. धौलपुर एससी-एसटी कोर्ट ने विधायक की दलीलों को खारिज करते हुए 14 दिन की न्यायिक अभिरक्षा में भेजने के आदेश दिए थे. विधायक गिर्राज सिंह मलिंगा की कोरोना रिपोर्ट पॉजिटिव आने पर जिला कारागार की जगह उन्हें जिला अस्पताल के कोरोना सेंटर में शिफ्ट किया गया था. इस दौरान विधायक गिर्राज सिंह मलिंगा ने जमानत की अर्जी राजस्थान हाईकोर्ट में लगाई थी. जिस पर मंगलवार को उन्हें जमानत मिली है.

मारपीट में घायल हुए एईएन 53 दिनों से आईसीयू में भर्ती हैं

उधर मारपीट में बुरी तरह घायल हुए विद्युत निगम बाड़ी के एईएन हर्षाधिपति वाल्मीकि पिछले 53 दिनों से जयपुर के एसएमएस अस्पताल के ट्रॉमा आईसीयू में भर्ती हैं. अब तक उनके तीन मेजर ऑपरेशन डॉक्टर्स कर चुके हैं. अभी एक मेजर ऑपरेशन और होना है. फिलहाल वह चल फिर नही पा रहे हैं. बताया जा रहा है इस मारपीट में एईएन की 22 हड्डियां टूट गई थी.

आपकी राय

क्या मायावती का यूपी चुनावों में हार के लिए मुस्लिम वोटों को जिम्मेदार ठहराना सही है?

View Results

Loading ... Loading ...

Get in Touch

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Related Articles

Latest Posts