Wednesday, September 28, 2022

सांसद हनुमान बेनीवाल ने SDM को फटकारा; :बोले- मर्डर हो गया और आप बैडमिंटन खेल रहे थे, शर्म नहीं आती

नमक करोबारी एवं नावां थाने के हिस्ट्रीशीटर रहे जयपाल पूनिया की हत्या का मामला लगातार तूल पकड़ता जा रहा है. इस मामले को लेकर सियासत भी लगातार गरमाती जा रही है। भाजपा प्रदेश अध्यक्ष सतीश पूनिया के बाद अब नागौर सांसद हनुमान बेनीवाल कड़ा तेवर दिखाया है। उन्होंने नावां (नागौर) SDM बृह्मलाल जाट को जमकर फटकारा। सभा में समझाने पहुंचे SDM को देखते ही बेनीवाल भड़क गए। उन्होंने कहा- इतना बड़ा मर्डर हो गया और तू बैडमिंटन खेलता फिर रहा है। जैसा ब्लड तेरे अंदर है वैसा ही खून इनके अंदर भी है। वो इतने गुस्से में थे कि कोविड काल में सिलेंडर की कालाबाजारी का भी जिक्र कर दिया। बोले- तुम कोविड के दौरान पार्टी पूछ कर सिलेंडर दे रहे थे। सिलेंडर तुम्हारे बाप के थे क्या? इस पर एसडीएम ने कहा- ऐसा कुछ भी मैंने नहीं किया था।

मंगलवार शाम को नागौर सांसद हनुमान बेनीवाल ने समर्थकों के साथ नावां से जयपुर के लिए कूच किया। वह देर शाम जयपुर पहुंच गए थे। बेनीवाल ने सीएम हाउस घेरने की चेतावनी दी थी। इसके बाद जयपुर पहुंचने से पहले ही उनके काफिले को पुलिस ने बगरू के पास रोक लिया था। नावां में मंगलवार को धरना तीसरे दिन भी चला। प्रशासन ने परिजनों को बॉडी डिस्पोज का नोटिस दिया। पूर्व विधायक हरीश कुमावत नावां में धरने पर बैठे हैं। एसडीएम के नोटिस के बाद भरे मंच से बेनीवाल ने SDM-SP पर निशाना साधा और कहा- हिम्मत है तो बॉडी डिस्पोज करके दिखाएं। जब तक मांगें पूरी नहीं होंगी, धरना जारी रहेगा। इसके बाद बेनीवाल ने शाम 5.15 बजे आरएलपी कार्यकर्ताओं व भाजपा नेताओं के साथ जयपुर कूच किया। बेनीवाल ने यहां सीएम आवास घेरने की चेतावनी दी।
आरएलपी सुप्रीमो ने किया राजधानी कूच का ऐलान।

इससे पहले सोमवार रात से BJP के पूर्व MLA हरीश कुमावत अनिश्चितकालीन अनशन पर हैं। नावां नगरपालिका के 10 BJP पार्षद भी एक दिन के लिए अनशन पर बैठ रहे। वहीं जनसभा में पहुंचे आरएलपी प्रमुख ने कहा- मैं कहना चाहता हूं कि हम कानून व्यवस्था बिगाड़ना नहीं चाहते हैं। कोई चुनौती देगा तो हम सड़कों पर संघर्ष करने के लिए तैयार हैं। अब आर-पार की लड़ाई होगी। आज ये तय कर लेंगे कि अब आगे रेलवे ट्रैक पे जाएंगे या हाईवे पर जाएंगे।

MLA पर आरोप
आरएलपी प्रमुख बेनीवाल ने कहा- MLA महेंद्र चौधरी के इशारे पर कारोबारी जयपाल पूनिया के मर्डर को अंजाम दिया गया है। CBI जांच से ही महेंद्र चौधरी जेल जाएगा। राजस्थान की कोई भी एजेंसी MLA के मामले की निष्पक्ष जांच नहीं कर सकती और न ही उसे पकड़ सकती है। हाल ही में एक MLA को CM अशोक गहलोत ने अपने घर बुलाकर सरेंडर करवाया था, जैसे उसने कोई बहुत बड़ा काम किया हो।

शव के खराब होने का हवाला
इससे पहले नावां SDM बृह्मलाल जाट ने मंगलवार दोपहर में मृतक जयपाल पूनिया के भाई विजय सिंह पूनिया के नाम शव के खराब होने का हवाला देते हुए पोस्टमॉर्टम करवाने और शव के अंतिम संस्कार करवाने का नोटिस दिया था। पुलिस से तामील करवाए गए इस नोटिस को विजय सिंह व अन्य परिजनों ने लेने से मना कर दिया। पुलिस ने मृतक कारोबारी के भाई कृष्ण पूनिया के घर के बाहर नोटिस चस्पा कर दिया है। नोटिस में लिखा गया है कि 17 मई को सुबह 10 बजे तक पोस्टमॉर्टम करवाकर शव का अंतिम संस्कार करवाएं, नहीं तो आपके खिलाफ एक पक्षीय कार्रवाई की जाएगी। परिजनों का कहना है कि जब तक नामजद आरोपियों की गिरफ्तारी नहीं होगी वे शव का पोस्टमॉर्टम नहीं होने देंगे। SP राममूर्ति जोशी ने कहा है कि मामले में अभी बयान, नक्शा मौका और पोस्टमॉर्टम ही नहीं हो पाया है। इसके बाद ही आगे की कार्रवाई हो सकती है। पुलिस इसके लिए लगातार परिजनों के संपर्क में है।

7 मांगों को लेकर BJP के पूर्व MLA हरीश कुमावत अनशन पर बैठ गए हैं।
BJP के वयोवृद्ध नेता, पूर्व MLA और वर्तमान में कुचामन नगरपालिका के पार्षद हरीश कुमावत ने BJP नेता और नमक कारोबारी पूनिया की हत्या के विरोध में 7 सूत्री मांगों को लेकर अनशन शुरू कर दिया है। कुमावत ने बताया कि जब तक प्रशासन उनकी सभी मांगें नहीं मान लेता तब तक वो अनशन पर रहेंगे। 79 साल के हरीश कुमावत 9 बार नागौर बीजेपी के जिलाध्यक्ष, 4 बार MLA, दो बार कुचामन नगरपालिका चेयरमैन और 2 बार शिल्प एवं माटी कला बोर्ड के चेयरमैन भी रह चुके हैं।

आपकी राय

क्या मायावती का यूपी चुनावों में हार के लिए मुस्लिम वोटों को जिम्मेदार ठहराना सही है?

View Results

Loading ... Loading ...

Get in Touch

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Related Articles

Latest Posts