Wednesday, September 28, 2022

Nepal Plane Crash : हादसे से पहले पायलट ने की थी ATC से आखिरी बातचीत, पूछा था मौसम का हाल

नेपाल में तारा एअर का एक विमान रविवार को क्रैश हो गया. फ्लाइट में क्रू मेंबर्स सहित 22 लोग सवार थे. इसमें 4 भारतीय, 2 जर्मन और 13 नेपाली मूल के थे. यह फ्लाइट नेपाल के पोखरा से जोमसोम जा रही थी. 

क्रैश हुए प्लेन को पायलट प्रभाकर घिमिरे उड़ा रहे थे. हादसे से कुछ देर पहले ही उन्होंने नेपाल के जोमसोम के एयर ट्रैफिक कंट्रोल (Air traffic control) से बात की थी और मौसम के बारे में जानकारी ली थी.

दरअसल, पायलट प्रभाकर घिमिरे का पोखरा एयरपोर्ट के ATC से संपर्क नहीं हो पा रहा था. इसके बाद उन्होंने जोमसोम एटीसी से मौसम के बारे पूछताछ की थी. जोमसोम ATC ने उन्हें मौसम साफ और हवा की गति भी ठीक होने की जानकारी दी थी.

तारा एअर के विमान से कुछ देर पहले ही समिट एयर के विमान ने जोमसोम एयरपोर्ट पर लैंडिंग की थी. ATC ने तारा एअर के विमान के पायलट को भी लैंडिंग की अनुमति दे दी थी. फ्लाइट कुछ ही समय के बाद लैंड करने ही वाली थी कि अचानक रडार से गायब हो गई. पहले सुबह 10:07 बजे पोखरा ATC और फिर 10:11 बजे जोमसोम ATC से प्लेन का संपर्क टूटा था.

तारा एअर के विमान के जोमसोम पहुंचने से पहले वहां समिट एयर का विमान लैंड हुआ था. इसकी लैंडिंग पायलट कैप्टन अभिनन्दन खड़का ने बताया कि जोमसोम एयरपोर्ट का मौसम बिलकुल ठीक था. बिना किसी परेशानी के उन्होंने अपनी फ्लाईट लैंडिंग कराई थी.

लापता विमान के पायलट कैप्टन प्रभाकर और कैप्टन अभिनन्दन की अच्छी दोस्ती थी. पोखरा एयरपोर्ट पर उड़ान भरने से पहले दोनों के बीच बातचीत हुई थी. तारा एअर के विमान को पोखरा से सुबह 6 बजे ही उड़ान भरनी थी, लेकिन कम विजिबिलिटी और खराब मौसम की वजह से उड़ान भरने में 4 घंटे की देरी हुई. तारा एअर के प्लेन से पहले समिट एयर की दो फ्लाईट जोमसोम जा चुकी थीं.

कैप्टन प्रभाकर का विमान जोमसोम में लैंडिग करने वाला था. इसलिए समिट एयर के कैप्टन अपने विमान के साथ वहां रुके हुए थे. तारा एअर की फ्लाइट के लापता होने की सूचना के बाद भी कैप्टन अभिनन्दन वहीं रुके रहे. क्योंकि जोमसोम एयरपोर्ट पर लैंडिंग और टेक ऑफ रोक दिया गया था. विमान के लापता होने की जानकारी मिलने के बाद पोखरा से जोमसोम के लिए आ रही समिट एयर की एक फ्लाइट बीच रास्ते से ही वापस लौट गई थी.

सीता-द्रौपदी-रजिया सुल्तान की पेंटिंग से सजेगी नई संसद, पौराणिक काल से लेकर स्वतंत्रता संग्राम तक की 75महिलाओं की लगेगी पेंटिंग

आपकी राय

क्या मायावती का यूपी चुनावों में हार के लिए मुस्लिम वोटों को जिम्मेदार ठहराना सही है?

View Results

Loading ... Loading ...

Get in Touch

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Related Articles

Latest Posts