Wednesday, September 28, 2022

Bikaner में आक्रोश, शहर भाजपा ने पानी की किल्लत को लेकर किया प्रदर्शन, सौंपा ज्ञापन

भारतीय जनता पार्टी के नगर जिलाध्यक्ष अखिलेश प्रताप सिंह के नेतृत्व में लोक स्वास्थ्य यांत्रिकी विभाग के अपर अभियंता अजय शर्मा को ज्ञापन सौंपा गया। अखिलेश प्रताप सिंह ने कहा कि जलापूर्ति में अनियमितता, कार्यशैली के कारण भेदभाव और जलापूर्ति विभाग के अधिकारियों के कुप्रबंधन ने शहर में आक्रोश की स्थिति पैदा कर दी है। लोक स्वास्थ्य यांत्रिकी विभाग के अपर मुख्य अभियंता अजय कुमार शर्मा को शहर में पेयजल की उदासीन वितरण व्यवस्था को लेकर ज्ञापन देकर 3 दिन में पेयजल व्यवस्था को सुधारने का अल्टीमेटम दिया गया।

सिंह ने कहा कि नहर बंद करने की अग्रिम सूचना के बावजूद विभाग ने न तो कोई एहतियाती कदम उठाया और न ही शहरी और ग्रामीण क्षेत्रों के लोगों को इस भीषण संकट से बचाने के लिए किसी संसाधन का इस्तेमाल किया। इस अवसर पर भाजपा जिलाध्यक्ष एडवोकेट अशोक प्रजापत, नरसिंह सेवाग, कमल आचार्य, हिमांशु शर्मा, अभय पारिक, ओमप्रकाश कुमावत, विजय शर्मा, भरत जाम्ब आदि उपस्थित थे। उधर, ग्रामीण क्षेत्रों में भाजपा ने जिलाध्यक्ष ताराचंद सारस्वत के नेतृत्व में शहर व ग्रामीण क्षेत्रों में पेयजल संकट के खिलाफ जलापूर्ति विभाग के अपर मुख्य अभियंता कार्यालय के समक्ष आवेदन दिया।

पेयजल संकट के समाधान की मांग
शिव दल के महंत कटेला ने जिला कलेक्टर को पत्र लिखकर शहर में पेयजल संकट के समाधान की मांग की है। उन्होंने पत्र में लिखा है कि नहर बंद होने से शहरी और ग्रामीण इलाकों में पानी की भारी किल्लत हो गई है। कटेला ने कहा कि जल आपूर्ति विभाग के इंजीनियरों को दो महीने पहले पता था कि नहर के बंद होने से गंभीर जल संकट हो सकता है, लेकिन कोई तैयारी नहीं की गई थी, जिससे आम जनता को नुकसान उठाना पड़ा।

आपकी राय

क्या मायावती का यूपी चुनावों में हार के लिए मुस्लिम वोटों को जिम्मेदार ठहराना सही है?

View Results

Loading ... Loading ...

Get in Touch

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Related Articles

Latest Posts