Monday, September 26, 2022

कैदी नंबर…. 241383 सिद्धू की नई पहचान, रंग-बिरंगे परिधान पहनने के शौकीन को मिला जेल से ये सामान

महंगे और रंग-बिरंगे रेशमी शॉल, विभिन्न चटकीले रंगों के पठानी कुर्ते-पायजामे और मैचिंग पगडिय़ां बांधने के शौकीन नवजोत सिंह सिद्धू को जेल के भीतर सादे कपड़ों में रहना होगा।

सजायाफ्ता कैदी होने के नाते सिद्धू को जेल विभाग की तरफ से 2 कुर्ते, 2 पगड़ी, कलम, कुर्सी, मेज, 3 अंडरवियर और बनियान, 2 तौलिए, मच्छरदानी मिली है। जेल में सिद्धू को कैदी नंबर 241383 के नाम से जाना जाएगा।

शुक्रवार देर शाम केंद्रीय जेल पटियाला में हुई नवजोत सिंह सिद्धू की एंट्री के बाद उन्हें कोई वी.आई.पी. ट्रीटमैंट न देते हुए आम कैदियों की तरह ही बैरक अलॉट की गई है। हालांकि जेल सुपरिंटेंडेंट को सिद्धू की सुरक्षा यकीनी बनाने के लिए अपने स्तर पर इंतजाम करने के लिए कहा गया है ताकि जैड सिक्योरिटी में रहने वाले नवजोत सिंह सिद्धू को जेल के भीतर कोई खतरा न होने पाए। साथ ही जेल पहुंचने से पहले हुई मैडीकल जांच के आधार पर नवजोत सिंह सिद्धू की डाइट के बारे में भी सुपरिंटेंडेंट को फैसला लेने का अधिकार हासिल है। जेल विभाग के सूत्रों के मुताबिक जेल में नियमों के मुताबिक पहले ग्रैजुएशन वाले कैदियों को बी क्लास की सुविधाएं देते हुए अन्य कैदियों से अलग कुछ सुविधाएं दी जाती थीं, जिनमें पढ़ने के लिए अखबार या किताब – मैगजीन, ट्रांजिस्टर-रेडियो इस्तेमाल करने की अनुमति होती थी, लेकिन काफी समय से इस नियम को बदला जा चुका है।

अब सजायाफ्ता कैदी को जेल के भीतर मिलने वाली सुविधाएं समान रूप से ही मुहैया करवाई जाती हैं, जिनमें तय दिनों पर मुलाकात, परिवार के पहले से तय किए गए फोन नंबरों पर रोटेशन के मुताबिक फोन कॉल्स की सुविधा व विशेष मौकों पर परिवारजनों के साथ बंधनमुक्त मुलाकात शामिल हैं। नवजोत सिंह • सिद्धू को कठोर कारावास की सजा होने के नाते उन्हें जेल सुपरिंटैंडैंट उनकी योग्यता के मुताबिक काम देने का फैसला लेंगे, हालांकि जेल नियमों के मुताबिक यदि जेल के डाक्टर सिद्धू की जांच के बाद उनकी सेहत के आधार पर श्रम में न लगाने की सिफारिश करेंगे तो जेल सुपरिंटैंडैंट सिद्धू को उनकी सेहत के मुताबिक किए जाने वाले कार्यों में लगा सकते हैं, जिनमें जेल के कार्यालय से संबंधित कई तरह के कार्य हैं या फिर जेल में बंद कैदियों को सुधारने के लिए उनसे मोटीवेशनल स्पीकर’ का काम लिया जा सकता है, जिसमें वह माहिर रहे हैं और एक-एक भाषण के दो-अढ़ाई करोड़ रुपए फीस चार्ज करते रहे हैं ।

10 नंबर बैरक में सिद्धू

शुक्रवार शाम को केंद्रीय जेल पटियाला पहुचे नवजोत सिंह सिद्धू को 10 नंबर वार्ड (बैरक) में रखा गया है। यह 12 फुट व 15 फुट लंबाई-चौड़ाई वाली बैरक है, जिसमें कुल मिलाकर 10 कैदियों को रखा जा सकता है। हालांकि सिद्धू की सुरक्षा के मद्देनजर मौजूदा समय में सिद्धू के अलावा 4 अन्य साफ-सुथरे अक्स वाले कैदियों को रखा गया है, जिन्हें सुपरिटैंडैंट द्वारा उनके पिछले जेल आचरण के आधार पर चुना गया है ताकि न सिद्धू की सुरक्षा को कोई खतरा पैदा हो और न ही अन्य कैदियों के व्यवहार से सिद्धू को कोई परेशानी होने पाए। पता चला है कि उक्त बैरक में बाथरूम और टॉयलेट सैपरेट हैं, जबकि एक एमरजैंसी टॉयलेट भी उपलब्ध है। सिद्धू की मैडीकल कंडीशन देखते हुए उन्हें मोटे कंबल उपलब्ध करवाए गए हैं, जिन्हें बिछौने की तरह इस्तेमाल किया जा सकेगा।

आपकी राय

क्या मायावती का यूपी चुनावों में हार के लिए मुस्लिम वोटों को जिम्मेदार ठहराना सही है?

View Results

Loading ... Loading ...

Get in Touch

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Related Articles

Latest Posts