Monday, September 26, 2022

BIO फ्यूल प्राधिकरण का CEO रिश्वत लेते गिरफ्तार , ACB से बोला- मेरा 1000 करोड़ का टर्न ओवर , मेरा क्या उखड लोगे ; राजस्थान के इतिहास में पहली बार इतनी बड़ी रकम हुई बरामद

सन्देश वातक : जयपुर के बायो फ्यूल प्राधिकरण के मुख्य कार्यकारी अधिकारी CEO सुरेंद्र सिंह राठौड़ और उसका दलाल संविदाकर्मी देवेश शर्मा को कल गुरुवार शाम एसीबी ने 5 लाख रुपए की रिश्वत लेते रंगे हाथों गिरफ्तार किया है । Rajasthan ACB ने एक ही दिन में परिवादी की शिकायत पर कारवाही को अंजाम दिया।
बताया जा रहा की आरोपी सुरेंद्र सिंह महंगी कारों और पेंट हाउस में शराब पार्टियों का शौकीन है। आरोपी के घर पर 4 लग्जरी गाड़िया भी बरामद हुई है। बता दें कि सुरेंद्र आए दिन अक्सर शराब पार्टियां करता रहता था। शराब पार्टी में राजस्थान सरकार के कई ब्यूरोक्रेट्स भी शामिल होते थे। अब तक आरोपी के ठिकानों से 4 करोड़ की नगदी बरामद हो चुकी है। जिसको गिनने के लिए मशीन लगायी गयी है। साथ ही 20 से ज्यादा संपत्तियों के दस्तावेज भी बरामद हो चुके हैं. राजस्थान के इतिहास में पहली बार इतनी बड़ी रकम बरामद हुई है। अभी भी आधा दर्जन ठिकानों पर ACB सर्च कर रही है ।

Rajasthan ACB trap

ACB महानिदेशक बीएल सोनी ने आज प्रेस कॉन्फ्रेंस में बताया _ ” ए.सी.बी. की जयपुर ग्रामीण इकाई को परिवादी द्वारा शिकायत दी गई कि उसके बॉयो फ्यूल के व्यापार को निर्वाध रूप से चलने देने की एवज में सुरेन्द्र सिंह राठौड़ मुख्य कार्यकारी अधिकारी, बॉयो फ्यूल प्राधिकरण, राजस्थान, जयपुर द्वारा 15 लाख रुपये मासिक बंधी के रूप में तथा लाईसेंस नवीनीकरण हेतु 5 लाख रुपये, कुल 20 लाख रुपये की रिश्वत राशि मांग कर परेशान किया जा रहा है।
जिस पर एसीबी जयपुर ग्रामीण इकाई के अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक श्री नरोत्तम लाल वर्मा के निर्देशन में शिकायत का सत्यापन किया जाकर आज योजना भवन स्थित बॉयो फ्यूल प्राधिकरण के कार्यालय में ट्रेप कार्यवाही करते सुरेन्द्र सिंह राठौड़ मुख्य कार्यकारी अधिकारी, बॉयो फ्यूल प्राधिकरण, राजस्थान, जयपुर व देवेश शर्मा संविदाकर्मी को परिवादी से 5 लाख रूपये रिश्वत राशि रंगे हाथों गिरफ्तार किया गया है।”

राज्य स्तर पर है सम्मानित है आरोपी


जानकारी के मुताबिक आरोपी अधिकारी सुरेंद्र सिंह राठौड़ राज्य स्तर पर सम्मानित भी हो चुका है। वही लाइसेंस रिन्यू के बदलने गुरुवार को सुरेंद्र सिंह ने एक व्यवसायी के घूस ली थी। एसीबी के अनुसार जब कार्रवाई के लिए टीम सीईओ के कक्ष में पहुंची तो उसने कहा कि एसीबी क्या कर लेगी। मेरा 1000 करोड़ का टर्न ओवर है।

एसीबी क्या कर लेगी… मेरा 1000 करोड़ का टर्न ओवर

लाइसेंस रिन्यू के बदलने गुरुवार को सुरेंद्र सिंह ने एक व्यवसायी के घूस ली थी. एसीबी के अनुसार जब कार्रवाई के लिए टीम सीईओ के कक्ष में पहुंची तो उसने कहा कि एसीबी क्या कर लेगी… मेरा 1000 करोड़ का टर्न ओवर है. इससे पहले सीईओ ने घूस पहले जोधपुर में लाने को कहा था लेकिन फिर कहा जयपुर ही ले आओ. पैसे लिए तब कहा कि 5 लाख ही क्यों लाया, 20 लाख लाने थे. चलो…. ये तो दो.

आपकी राय

क्या मायावती का यूपी चुनावों में हार के लिए मुस्लिम वोटों को जिम्मेदार ठहराना सही है?

View Results

Loading ... Loading ...

Get in Touch

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Related Articles

Latest Posts