Wednesday, September 28, 2022

Rajasthan Weather Forecast : राजस्थान में गर्मी का सितम अप्रैल में ही टुटा इतने सालों का रिकॉर्ड, मौसम विभाग ने जारी किया अलर्ट

प्रदेश में भीषण गर्मी और उमस ने पिछले 15 दिनों से प्रदेशवासियों को बेहाल करके रख दिया है. अप्रैल के पहले हफ्ते में सूरज का सितम ज्यादा ही सता रहा है. बीते तीन दिनों में तापमान में जबरदस्त बढ़ोतरी की गई है. सुबह-सुबह ही लोगों को घर से निकलने में पसीने छूट रहे हैं. प्रदेश के कई जिलों में दिन का पारा 40 डिग्री के पार पहुंच चुका है. वहीं, करीब एक दर्जन जिलों में दिन का तापमान 42 डिग्री दर्ज किया गया. इसके साथ प्रदेश के करीब सभी जिलों में रात का पारा भी 20 डिग्री के पार पहुंच चुका है.

राजस्थान मौसम विभाग के आंकड़ों पर नजर डाले तो मालूम होता है कि इस साल का मार्च महीना कई सालों के इतिहास में सबसे गर्म रहा. प्रदेश के कई जिलों में भीषण गर्मी पड़ रही है और पारा सामान्य से ज्यादा दर्ज किया जा रहा है. मौसम विभाग ने अगले कुछ और दिन गर्मी पड़ने की चेतावनी जारी है. साथ ही पश्चिमी राजस्थान में लू के थपेड़े पड़ने की आशंका जताई है. 

दिन का पारा पहुंचा 42 डिग्री के पार

राजस्थान के पश्चिमी और उत्तर पूर्वी हिस्सों में औसत तापमान 20 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया है. जो कई सालों में सबसे ज्यादा है. भीषण गर्मी की मुख्य वजह बारिश की कमी बताया जा रही है. राजस्थान के बाड़मेर, चूरू, जैलसमेर, समेत कई जिलों में भीषण गर्मी पड़ रही है. यहां पर तापमान 42 डिग्री के पार पहुंच गया है. प्रदेश में दिन और रात के तापमान में लगातार बढ़ोतरी दर्ज की जा रही है. बीती रात भी करीब 1 डिग्री रात का तापमान बढ़ गया है. बाड़मेर में दिन का तापमान 43.6 डिग्री दर्ज किया गया वहींं, रात में 28.5 डिग्री सेल्सियस मापा गया. वहीं फलोदी में 28.4 डिग्री तक रात का पारा पहुंच गया है.  जैसलमेर में 31 मार्च को अधिकतम तापमान 42.4 डिग्री सेल्सियस रिकॉर्ड हुआ, जो  इस साल के इतिहास में सबसे गर्म दिन रहा.

इन जिलों में हीटवेव चलने की आशंका

मौसम विभाग के अनुसार प्रदेश में अगले कुछ दिनों तक मौसम पूरी तरह से शुष्क बना रहने के चलते दिन और रात के तापमान में करीब 2 डिग्री तक और बढ़ोतरी होने की संभावना है.इसके साथ ही वनस्थली, पिलानी, कोटा, सीकर, बाड़मेर, जैसलमेर, जोधपुर, फलोदी, बीकानेर, श्रीगंगानगर, चूरू में हीटवेव का यलो अलर्ट भी जारी किया गया है.

यह भी पढ़े

‘वो लड़की मेरी है, उससे बात मत किया कर’ एक ही लड़की से दो दोस्त कर रहे थे चैटिंग,मध्यप्रदेश के जावरा में लव ट्रायएंगल में एक दोस्त ने की दूसरे की हत्या

आपकी राय

क्या मायावती का यूपी चुनावों में हार के लिए मुस्लिम वोटों को जिम्मेदार ठहराना सही है?

View Results

Loading ... Loading ...

Get in Touch

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Related Articles

Latest Posts