Sunday, September 25, 2022

अशोक गहलोत को फिर याद आई सचिन पायलट गुट की बगावत, बोले- BJP का खेल पहले भी फेल हो चुका है

राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने बीजेपी पर हमला बोला है। गहलोत ने कांग्रेस के तीनों उम्मीदवारों के नामांकन दाखिल करने बाद जयपुर में मीडिया से बात की और तीनों सीट जीतने का दावा किया है। गहलोत ने पायलट गुट की बगावत को याद करते हुए कहा कि हमारे 19 साथी गुमराह होकर चले गए थे। हमारे विधायक 34 दिन होटल में रहे। 10 करोड़ रुपए की प्रथम किस्त थी। तब भी कोई आदमी नहीं गया, एमएलए नहीं गया हो, जिनके मैंने नाम लिए, अब ये क्या उनसे उम्मीद करते हैं वो क्या इनको ऑफर करेंगे वो लोग? कोई बिकने वाले नहीं हैं, इनकी पूरी पोल खुल जाएगी और बीजेपी की बहुत स्थिति खराब होने वाली है आने वाले वक्त के अंदर। कांग्रेस के तीनों उम्मीदवार जीतेंगे। हमारा कोई विधायक बिकने वाला नहीं है। सीएम गहलोत ने कहा कि कांग्रेस के विधायक चाहते हैं कि सब एकजगह एकत्रित हो जाए। बीजेपी वाले फोन करके परेशान करते हैं। उससे अच्छा है विधायकों की बाड़ेबंदी।

बीजेपी का खेल पहले भी फेल हो चुका है

सीएम गहलोत ने कहा कि पता नहीं बीजेपी ने जो खेल खेला है, ये खेल पहले भी इनका फेल हो चुका है एक बार, मुझे याद है कि 15 साल पहले भी यही खेल खेला था, इनके खुद के विधायक बीजेपी के साइन करते हैं और इन्डिपेंडेंट के नाम से फॉर्म भरवाते हैं, सुबह कहा गया कि बीजेपी के उम्मीदवार हैं दूसरे हमारे, फिर बाद में घबराकर के बदल गए कि ये इन्डिपेंडेंट रहेंगे, तो ये स्थिति शुरुआत के अंदर ही है, शुरुआत ही इनकी ऐसी हुई है। दूसरा, ये जो तरीका इनका है, ये 15 साल पहले भी एक बार ऐसे ही काम किया इन्होंने, साइन कर दिए, उम्मीदवार खड़ा कर दिया, आखिर में रात को 12 बजे इनको ये कहना पड़ा कि हमें उम्मीदवार ने वादा किया था हमसे कि मेरे पास में एक्स्ट्रा वोट हैं, वोट जुटा नहीं पाए वो, इसलिए हम उनको समर्थन वापस लेते हैं, रात को 12 बजे, मिस्टर भक्कड़ थे उस वक्त में उम्मीदवार मुझे याद है, तब भी इनकी स्थिति यही बनी थी, इस बार भी सुभाष चंद्रा जी को खड़ा कर दिया है और इनको पता है कि पूरा वोट नहीं है इनके पास में, उसके बावजूद भी ये क्या हॉर्स ट्रेडिंग करेंगे यहां पर? फिर माहौल खराब करेंगे प्रदेश के अंदर। ये कब तक प्रदेश को बिगाड़ना चाहते हैं ये लोग? 

हमारे 19 साथियों को गुमराह किया

सीएम ने कह कि मुझे उम्मीद है कि हमारा एक-एक साथी, जिसने हमारी गवर्नमेंट बचाई थी, 34 दिन तक होटलों में रहे थे हमारे साथ में और जो 19 साथी चले गए थे, उनको जिस प्रकार से ग़ुमराह करके ले जाया गया, वो भी अब हमारे साथ में हो गए हैं, तो जब इनको पता है कि हम नहीं जीत सकते, तो फिर हॉर्स ट्रेडिंग का सपना देखकर के, योजना बनाकर के आप खड़े कर रहे हो उम्मीदवार को, ये परंपरा राजस्थान में क्यों डाल रहे हो आप? ये मैं पूछना चाहता हूं बीजेपी के नेताओं से? ये माहौल खराब करना चाहते हैं, मुझे उम्मीद है कि जब सरकार हमारी बचा दी जिन लोगों ने, चाहे वो इन्डिपेंडेंट थे, चाहे बीएसपी के साथी जो कांग्रेस जॉइन कर गए थे, चाहे सीपीएम के साथियों ने साथ दिया, चाहे बीटीपी के लोगों ने साथ दिया हमारा, जिन्होंने साथ दिया, मिस्टर सुभाष गर्ग तो थे ही, साथ में हमारे मंत्री भी हैं, इन तमाम पार्टियों ने, बीटीपी ने, सीपीएम ने, इन्डिपेंडेंट ने जो निर्दलीय थे वो और तमाम हमारे बीएसपी के साथियों ने, इन्होंने हमारी सरकार बचाई थी, आज इसीलिए सरकार बची हुई है, वरना हमारी सरकार रहती ही नहीं, तो वो तमाम एकजुट रहेंगे और हमारे तीनों उम्मीदवार जीतेंगे, ये मैं कह सकता हूं आपको। 

कांग्रेस का कोई विधायक बिकने वाला नहीं है 

सीएम ने कहा कि बीजेपी वाले भड़काने का काम करेंगे, ऑफर करेंगे, लोभ-लालच देंगे, जब सरकार बचाने में भी इनके चक्करों में नहीं आए हों, उनसे ये क्या उम्मीद कर सकते हैं कि वो इनको साथ देंगे हॉर्स ट्रेडिंग के माध्यम से पैसा लेकर? कैसे उम्मीद कर सकते हैं? वो गेम उस वक्त ऐसा था, जब ये होटल के अंदर हमारे साथ कोई आदमी बैठा हुआ है, एक नया पैसा नहीं मिल रहा है, होटल के बाहर जाओ हमें छोड़कर, 10 करोड़ रुपए की प्रथम किस्त थी उनके लिए 10 करोड़ रुपए की प्रथम किस्त थी, तब भी कोई आदमी नहीं गया, एमएलए नहीं गया हो, जिनके मैंने नाम लिए, अब ये क्या उनसे उम्मीद करते हैं वो क्या इनको ऑफर करेंगे वो लोग? कोई बिकने वाले नहीं हैं, इनकी पूरी पोल खुल जाएगी और बीजेपी की बहुत स्थिति खराब होने वाली है आने वाले वक्त के अंदर।

आपकी राय

क्या मायावती का यूपी चुनावों में हार के लिए मुस्लिम वोटों को जिम्मेदार ठहराना सही है?

View Results

Loading ... Loading ...

Get in Touch

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Related Articles

Latest Posts