Sunday, September 25, 2022

Rajasthan Breaking News : वरिष्ठ अध्यापक भर्ती परीक्षा 2016 का मामला, अभ्यर्थियों ने आज भीख मांगकर किया प्रदर्शन

अजमेर न्यूज डेस्क। राजस्थान की इस वक्त की बड़ी खबर अजमेर जिले से सामने आ रही आ रहीं है। राजस्थान लोक सेवा आयोग वरिष्ठ अध्यापक भर्ती 2016 को अभी तक पूर्ण नहीं कर पाया है। पिछले 30 दिन से अभ्यार्थी आरपीएससी से 300 मीटर दूर धरना लगाकर बैठे हैं, वहीं 3 दिन से कुछ अभ्यार्थी भूख हड़ताल भी कर रहे हैं।
सरकार और आरपीएससी अधिकारियों का ध्यान आकर्षित करने के लिए अभ्यार्थी विभिन्न तरीकों से आंदोलन को गति देते हुए री शफल परिणाम जारी करने की मांग कर रहे हैं। इस क्रम में गुरुवार को अभ्यार्थियों ने आरपीएससी कार्यालय के बाहर झाड़ू लगाकर • अपना विरोध जताया और आज भीख मांग कर प्रदर्शन कर रहें है।

वरिष्ठ अध्यापक भर्ती 2016 के अभ्यर्थी री-शफल परिणाम की उम्मीद 4 वर्षों से लगाए बैठे हैं। परिणाम जारी करने की मांग को लेकर राज्य के विभिन्न जिलों से आए अभ्यर्थी 30 दिन से आंदोलन कर रहे हैं। आरपीएससी कार्यालय क्षेत्र में धारा 144 लागू होने की वजह से तीन सौ मीटर दूर धरना दे रहे हैं। पिछले तीन दिन से कुछ अभ्यार्थी भूख हड़ताल पर बैठे हैं। अभ्यार्थियों का आरोप है कि 30 दिन आरपीएससी के किसी अधिकारी ने उनकी सुध लेना तो दूर, सीधे मुंह बात भी नहीं की है। कभी डीओपी से पत्र नहीं मिलने तो कभी राज्य सरकार से कोई आदेश नहीं आने का हवाला देकर अभ्यर्थियों को चलता कर देते हैं।

अभ्यार्थियों ने बताया कि वरिष्ठ अध्यापक भर्ती 2016 में अपात्र एवं नॉन जॉइनिंग अभ्यार्थियों के कारण विभिन्न विषयों के कई पद रिक्त रहे, जिन पर 4 सालों से एक बार भी री-शफल रिजल्ट एवं वेटिंग लिस्ट जारी नहीं की गई। राज्य सरकार ने 2 नवंबर 2021 को सभी विषयों की वेटिंग रिजल्ट निकालने के लिए आरपीएससी को निर्देश जारी किए थे। उन्होंने बताया कि 26 अप्रैल 2018 का सर्कुलर भर्ती को प्रभावित नहीं करता है, क्योंकि वरिष्ठ अध्यापक भर्ती 2016 का परिणाम सितंबर 2018 को जारी किया गया और नई भर्ती वरिष्ठ अध्यापक भर्ती 2018 का विज्ञापन 9 अप्रैल 2018 को जारी किया गया था।

वहीं, पुरानी भर्ती का रिजल्ट जारी होने से पहले ही नई भर्ती का विज्ञापन जारी कर दिया गया। उन्होंने बताया कि कार्मिक विभाग की ओर से 27 दिसंबर 2021 को संशोधित सर्कुलर जारी किया गया, जिसमें स्पष्ट रूप से लिखा है कि यदि भर्ती कोर्ट में चली जाए तो नई भर्ती आ जाने के बाद भी पुरानी भर्ती की रिक्त सीटों पर • वेटिंग जारी की जा सकती है। इसके बाद भी आरपीएससी ने वरिष्ठ अध्यापक भर्ती 2016 को अटका रखा है।

आपकी राय

क्या मायावती का यूपी चुनावों में हार के लिए मुस्लिम वोटों को जिम्मेदार ठहराना सही है?

View Results

Loading ... Loading ...

Get in Touch

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Related Articles

Latest Posts