Monday, September 26, 2022

राष्ट्रीय महिला आयोग की अध्यक्ष ने राजस्थान की कानून व्यवस्था पर उठाए गंभीर सवाल

राष्ट्रीय महिला आयोग की अध्यक्ष रेखा शर्मा ने राजस्थान की कानून और व्यवस्था पर गंभीर सवाल उठाते हुए कहा है कि नाबालिगों के साथ भी हर दूसरे दिन कोई बड़ी घटना घट रही है। राजस्थान में कानून व्यवस्था का डर अपराधियों में नहीं रहा। अपराधियों को जल्द पकड़ लेना कोई शाबासी का काम नहीं है, सवाल ये है कि अपराध थम नहीं रहे हैं। लगातार रेप की घटनाएं हो रही हैं।

रेखा शर्मा गुरुवार को दौसा पहुंचीं। उन्होंने रामगढ़ पचवारा में 32 साल की महिला से दो युवकों द्वारा रेप के बाद हत्या के मामले में दौसा एसपी राजकुमार गुप्ता व डिप्टी एसपी सत्यनारायण यादव से घटनाक्रम की जानकारी ली। शर्मा दौसा से रामगढ़ पचवारा भी गईं। उन्होंने गांवों की परिवहन व्यवस्था पर भी सवाल भी उठाया। उन्होंने कहा कि गांव तक कनेक्टिविटी ही नहीं है। धूप में अपने गांव से छह किलोमीटर पैदल जा रही महिला को लिफ्ट लेनी पड़ी। अगर गांव तक कोई बस जाती तो महिला के साथ न तो रेप होता न उसकी हत्या होती। जिस बच्चे ने घटना का क्लू दिया, वह खुद रोजाना लिफ्ट लेकर स्कूल से घर आता है।

शर्मा ने पुलिस पर भी गंभीर सवाल उठाए। उन्होंने कहा कि अधिकारियों से बात करते हैं तो कहते हैं कि रेप के अस्सी प्रतिशत मामले झूठे होते हैं। अगर पहले ही ऐसी मानसिकता लेकर पुलिस काम करेगी तो महिलाओं के साथ न्याय कैसे होगा। उन्होंने प्रदेश की कानून व्यवस्था को भी कठघरे में खड़ा किया। उन्होंने कहा कि दौसा में दो ऐसे युवकों ने जघन्य अपराध दिनदहाड़े कर दिया, जिनका क्रिमिनल रिकॉर्ड नहीं था। कुछ फैक्ट है जो पुलिस से छूट रहा है। त्वरित कार्रवाई हुई है, लेकिन दिनदहाड़े ऐसी घटना ही अपने आप में सवाल उठाती है, क्या अपराधियों में कानून का डर बिल्कुल खत्म हो गया।

महिला आयोग की अध्यक्ष ने कहा कि अपराध के खिलाफ कार्रवाई काफी नहीं है। कानून का डर लोगों में होना चाहिए। ऐसे लोगों को तुरंत पकड़ा जाए, जल्द सख्त सजा दी जाए। तब कानून का डर बनेगा। दौसा में अपराधियों ने दिन के 11 बजे अपहरण किया, रेप किया और रात में डेडबॉडी को कुएं में फेंक कर आए। इस दौरान उन्हें किसी तरह का डर नहीं था।

उल्लेखनीय है कि दौसा के रामगढ़ पचवारा के एक गांव की महिला 23 अप्रैल को अपने ससुराल से पीहर आई थी। गांव से 6 किलोमीटर दूर बस ने उसे उतार दिया। कोई साधन नहीं मिला तो वह पैदल घर की ओर चल दी। रास्ते में उसे कालूराम व उसके साथी ने कार में लिफ्ट दी। दोनों उसे सुनसान इलाके में ले गए, रेप किया और ओढ़नी से गला दबाकर हत्या कर दी। रात में शव बस्सी थाना इलाके के लालगढ़ गांव में कुएं में फेंक आए।

राजस्थान में 6000 लेक्चरर की वैकेंसी, RPSC ने जारी किया नोटिफिकेशन

आपकी राय

क्या मायावती का यूपी चुनावों में हार के लिए मुस्लिम वोटों को जिम्मेदार ठहराना सही है?

View Results

Loading ... Loading ...

Get in Touch

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Related Articles

Latest Posts