Sunday, September 25, 2022

राजस्थान के सीकर के डॉक्टर परिवार के 5 लोगों की मौत, पंजाब के रूपनगर में हुआ सड़क हादसा

राजस्थान के लिए पंजाब से दुखभरी खबर आई है। खबर है कि पंजाब में सड़क हादसे में राजस्थान के एक ही परिवार के 5 लोगों की मौत हो गई। यह परिवार राजस्थान के सीकर का रहने वाला बताया जा रहा है।

जानकारी के अनुसार ​सीकर जिले के गांव ठिकरिया के डॉ. सतीश का परिवार घूमने के लिए गया हुआ था। रास्ते में पंजाब के रूपनगर के पास बस की टक्कर से गाड़ी नहर में गिर गई। हादसे में सतीश के परिवार के 5 लोगों की मौत हो गई। गाड़ी में डॉ. सतीश पूनिया ( हड्डी रोग विशेषज्ञ, सीएचसी रींगस) तथा उनकी पत्नी सरिता पूनिया (अध्यापिका, किशनपुरा) तथा रिश्तेदार राजेश देवन्दा का परिवार था।

आज सुबह बूढ़े मां-बाप को हादसे की जानकारी दी गई
मृतक डॉ. कुमार की कोठी में सन्नाटा पसरा हुआ था। चहल- कदमी वाली गली में खामोशी थी। पड़ोसी मामा ने कहा कि हंसी-खेलने की आवाज से चहकता घर आज वीरान हो गया है। 10 किलोमीटर दूर एक गांव में माता-पिता, मंझला भाई और उसके बीवी बच्चे रहते है। वहां के हालात तो रोंगटे खड़े कर देने वाले है। बूढे माता-पिता बेटे, बहू और अपने पोता-पोती के आने की बांट जोह रहे थे। मगर आज सुबह उनकी मौत की खबर लग गई।

डॉक्टर का दिल्ली में रहने वाला सबसे बड़ा भाई शवों को लेने पंजाब गया है। आस लगा रहा है कि, छोटे भाई की आखिरी निशानी राजवी तो मिल जाए। पड़ोस में रहने वाले मामा रोते हुए कहते है, जाते हुए घर की चाबियां देकर गया था। अपनी मामी से शनिवार को फोन पर भी बात की थी। छोटे-छोटे बच्चों और बेटे-बहू की हंसी से गूंजते घर में जाने तक की हिम्मत नहीं हो रही।

भैया से बात हुई, बोले- पोस्टमार्टम का इंतजार कर रहे
चाचा के लड़के सागर ने बताया कि सुबह 8 बजे ओमप्रकाश भैया से बात हुई थी। उन्होंने बताया कि पोस्टमार्टम होने का इंतजार कर रहे हैं। एक बॉडी का पोस्टमार्टम होना बाकी है। उसके बाद शवों को रवाना किया जाएगा। पंजाब में SHO से बात भी हुई। उन्होंने कहा कि दोनों बच्चियों की तलाश के लिए सर्च ऑपरेशन जारी हैं।

मां को नींद की गोली देकर सुलाया
रींगस में रहले वाले मामा गिरधारी ने बताया कि सतीश तीन भाइयों में सबसे छोटा था। बहन मनोहरी देवी (60) और जीजा प्रभुदयाल (62) को उनके बेटे सहित बहू और पोते की मौत सोमवार को केवल मामूली हादसे के बारे में बताया गया। हिम्मत नहीं थी, मौत की खबर देने की। उसके बाद से दोनों ने खाना नहीं खाया। बस बच्चों के सही सलामते वापस आने की प्रार्थना करते रहे। परिवार के 6 घरों में भी चूल्हा नहीं जला आज सुबह मौत की खबर लगते ही बहन मनोहरी की हालत इतनी खराब हो गई कि, नींद की गोली देकर सुलाना पड़ा। वहीं जीजा जी गुमसुम बैठ गए।

शवों का आज पंजाब में होगा पोस्टमार्टम
डॉक्टर सतीश के सबसे बड़े भाई ओमप्रकाश दिल्ली पुलिस में कार्यरत हैं। वह अपने परिवार के साथ पंजाब गए है। सतीश के साले राजेश और उनकी पत्नी रीना भी इस हादसे में मौत हुई। उनके साथ राजेश के बड़े भाई जयप्रकाश की बेटी चार साल की गुड़िया भी गई थी। राजवी और गुड़ियां दोनों बच्चियों की तलाश की जा रही है। नहर के पॉइंट्स पर जाल बिछाए गए है। सर्च अभियान जारी है। गुड़िया अपने माता-पिता की इकलौती संतान थी।

आपकी राय

क्या मायावती का यूपी चुनावों में हार के लिए मुस्लिम वोटों को जिम्मेदार ठहराना सही है?

View Results

Loading ... Loading ...

Get in Touch

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Related Articles

Latest Posts