Monday, September 26, 2022

FIH Women Junior WC: वर्ल्ड कप में भारत का परचम लहराएंगी मुमताज खान,माता-पिता हैं सब्जी विक्रेता

भारत ने अभी तक खेले सभी चारों मैच जीते हैं। जूनियर वर्ल्ड कप में मुमताज ने अभी तक छह गोल किए हैं और वह टूर्नामेंट में तीसरी सबसे ज्यादा गोल करने वाली खिलाड़ी हैं। मुमताज ने वेल्स के खिलाफ पहले मुकाबले में गोल किया। फिर खिताब जीतने की दावेदार जर्मनी टीम के खिलाफ विजयी गोल दागा। मलेशिया के खिलाफ उन्होंने हैट्रिक लगाई थी। मुमताज की पांच बहने हैं और वे सभी मोबाइल पर मैच देख रही थीं।

2013 में हॉकी से जुड़ीं

मुमताज़ का हॉकी से रिश्ता अचानक से हुआ। 2013 के आसपास वह अपनी स्कूल की एथलेटिक्स टीम के साथ आगरा गई थीं। वहां वह स्प्रिंट (दौड़) में टॉपर रही। फिर लोकल कोच के कहने पर हॉकी स्टिक उठा ली। मुमताज़ मे सेलेक्शन ट्रायल में अच्छा खेल दिखाया और उन्हें स्कॉलरशिप के तहत स्पोर्ट्स हॉस्टल में जगह मिल गई।मुमताज़ के पिता पहले साइकल रिक्शा चलाते थे। लेकिन कम आमदनी के चलते मुमताज़ के मामा ने उन्हें सब्जी की रेहड़ी लगाने में मदद की. अब यह रेहड़ी कैसर जहां संभालती हैं। हालांकि इससे इतनी कमाई नहीं हो पाती है कि घर का खर्च चलाने के साथ ही स्कूल फीस और हॉकी किट ली जा सके।ऐसे में मुमताज़ की हॉकी किट उनके कोच ने दिलाई। मुमताज़ 2017 में जूनियर नेशनल टीम के सैट अप का हिस्सा बनीं। अगले साल यूथ ओलिंपिक्स में वह सिल्वर मेडल जीतने वाली टीम का हिस्सा रहीं।

मुमताज की बहन बोलीं- ‘ऐसे भी दिन थे जब हमारे पास कुछ नहीं था’

मुमताज की बड़ी बहन फराह कहती हैं- ‘आज हमें कैसा लग रहा है, इसको बयां करना मुश्किल है। ऐसे भी दिन थे जब लोग मेरे माता-पिता को लड़की को खिलाने के लिए ताना मारते थे।’ मुमताज की मां कैसर जहां कहती हैं- ‘हमने उन लोगों की बातों को नजरअंदाज किया। लेकिन आज ऐसा लगता है कि मुमताज ने उन सभी लोगों को मुंहतोड़ जवाब दिया है।’

सबसे ज्यादा गोल करने वाली तीसरी खिलाड़ी हैं मुमताज़

बता दें कि मुमताज खान ने जूनियर महिला हॉकी विश्व कप में अब तक 6 गोल दागे हैं। वह इस प्रतियोगिता में सबसे ज्यादा गोल करने वाली तीसरी खिलाड़ी हैं। भारत के शुरुआती मैच में वेल्स के खिलाफ उन्होंने गोल किया था। इसके बाद जर्मनी के विरुद्ध गोल करने में सफल रहीं। मलेशिया के विरुद्ध उन्होंने सनसनीखेज हैट्रिक लगाई थी।

आपकी राय

क्या मायावती का यूपी चुनावों में हार के लिए मुस्लिम वोटों को जिम्मेदार ठहराना सही है?

View Results

Loading ... Loading ...

Get in Touch

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Related Articles

Latest Posts